Vastu shastra | महत्वपूर्ण वास्तु टिप्स / Important Vastu Tips | Ganesh

महत्वपूर्ण वास्तु टिप्स / Important Vastu Tips

Vastu shastra


महत्वपूर्ण वास्तु टिप्स / Important Vastu Tips


vastu shastra vastu shastra vastu shastra

Please click on image to watch video

महत्वपूर्ण वास्तु टिप्स

1. घर का मुख्य प्रवेश द्वार – 


आपके घर का सबसे महत्वपूर्ण पहलू है जो गलत वास्तु से प्रभावित होता है।


घर का प्रवेश द्वार आगंतुकों के लिए है और साथ ही सकारात्मक ऊर्जा के प्रवेश के लिए, इसे यथासंभव सुंदर और आकर्षक बनाने का प्रयास करें।


आप उस प्रवेश द्वार को सजा सकते हैं, प्रवेश द्वार किसी को भी देखने से आमन्त्रित करता सा प्रति होना चाहिए। प्रवेश द्वार को सुशोभित करने के लिए पौधों, रंगोली, रोशनी का उपयोग किया जा सकता है।


किसी भी धन की समृद्धि को आकर्षित करने के लिए आप मुख्य प्रवेश द्वार के ऊपर गणेश प्रतिमा या चित्र का उपयोग कर सकते हैं


सुनिश्चित करें कि प्रवेश द्वार का रास्ता साफ रखा गया है, कूड़े का ढेर या पानी का जमाव नहीं है, प्रवेश द्वार को किसी अन-सुखदायक साइट का सामना नहीं करना चाहिए जैसे कि मूत्रालय, बाथरूम, किसी और के घर का प्रवेश द्वार, कचरा पेटी आदि।


2. घर का उत्तर-पूर्व कोना या कोण – 


घर का उत्तर-पूर्व कोना घर में सुख, समृद्धि और सकारात्मक ऊर्जा का प्रतिनिधित्व करता है। इस कोने को पूरे घर का सबसे सकारात्मक कोना माना जाता है।


इसे साफ रखना चाहिए। यदि संभव हो तो पूजा कक्ष को घर के इस कोने में रखें, आप यहां से पानी की टंकी बना सकते हैं या एक फव्वारा हो सकता है, यह स्थान अध्ययन कक्ष और ध्यान कक्ष के लिए भी सर्वोत्तम है।


कचरा पेटी, शौचालय, रसोई, स्टोर रूम, भारी वस्तुओं जैसे तत्वों को इस जगह के कोने से बचना चाहिए क्योंकि यह सकारात्मक ऊर्जा को अवरुद्ध करेगा और घर में रहने वाले लोगों के विकास पर प्रतिकूल प्रभाव डालेगा सबसे अच्छा उपाय यह है कि घर के इस ईशान कोण में सुंदर गणेश की मूर्ति रखें


3. बैठक कक्ष – 


बैठक कक्ष जहाँ आप लोगों से मिलते हैं, आपके और आपके आगंतुकों के बीच के रिश्तों का प्रतिनिधित्व करता है।


जो भी आपसे मिलने आते है उन सब को बैठक कक्ष से सकारात्मकता ऊर्जा का आभास होना चाहिए, इसलिए कभी भी ऐसे नाकारात्मक चित्रों का उपयोग न करें जो युद्ध, जंगली जानवरों, समुद्र में संघर्षरत नावों, गरीबी की छवियों , दास चेहरे , डरावनी छवियां को चित्रित करते हों।


इस कमरे में हमेशा हल्के रंगों का उपयोग करें। गहरे रंगों के प्रयोग से बचें। फर्निशिंग और फर्नीचर आरामदायक होना चाहिए।


आवश्यकता से अधिक सामग्री या बहुत सारे तत्वों कमरे में न रखें, इससे ऊर्जा का प्रवाह अवरुद्ध होती है।


आप बाल गणेश छवियों या गणेश छवि का उपयोग कर सकते हैं जिनको आभूषणों से सजाया गया है।


4. रसोईघर – 
रसोईघर हर किसी को स्वस्थ रखने के अलावा परिवार की समृद्धि का भी सूचक है।


रसोई के लिए सबसे उपयुक्त स्थान घर का साउथ-ईस्ट कोना है।


यदि किचन साउथ-ईस्ट कॉर्नर संभव नहीं है तो किचन उत्तर-पश्चिम क्षेत्र में भी बनाया जा सकता है। पानी और आग का स्थान रसोई में एक दूसरे से दूर होना चाहिए। भंडारण कक्ष हमेशा उत्तर-पश्चिम क्षेत्र में बनाया जाएगा।


आप रसोई को सजाने के लिए सुंदर खाद्य पदार्थों के चित्रों का उपयोग कर सकते हैं।


सकारात्मक ऊर्जा के प्रवाह के लिए रसोई में पर्याप्त प्राकृतिक प्रकाश और उचित वायु वेंटिलेशन प्राप्त करना चाहिए।


रसोई घर को हमेशा साफ रखना चाहिए और रात में कभी भी झूठे बर्तन या बासी भोजन को रसोई में नहीं छोड़ना चाहिए क्योंकि यहां से नकारात्मक ऊर्जा उत्पन्न होती है, जो घर के मालिक के स्वास्थ्य पर विपरीत प्रभाव के साथ-साथ धन के आगमन को रोकती है।

Important Vastu Tips 

1 – House Main Entrance Door –


one of the most important aspect of your house that gets affected by wrong vastu.


The entrance of the house is for the visitors as well as entry of positive energy, try to make it as beautiful & attractive as possible.
You can decorate the entrance that it looks inviting.


Plants, rangoli, lights can be used to beautify the entrance. You can use Ganesha Idol on top of main entrance door to attract prosperity and wealth.


Make sure that path to entrance is kept clean, there’s no pile of garbage or water clogging, entrance should not face any un-pleasent site like view of urinal, bathroom, entrance of someone else house, garbage bin etc.


2. North-east Corner or angle of the house-


The north-east corner of the house represents happiness, prosperity and positive energy in the house.


This corner is considered to be the most positive corner of the entire house. It should be kept clean.


If possible keep puja room in this corner of the house, you can create water body out here or a fountain can be places, this place is also best for study room and meditation hall.


Elements like garbage bin, toilets, kitchen, store room, heavy items should be avoided from this corner of the place as


it will block the positive energy and will adversly affect the growth of people living in the house


Best remedy is to keep a beautiful Ganesha idol in this North-east Corner or angle of the house.

3. Meeting room –


Place in the house where you meet people represents link between you and your visitors, it should always project positivity to people


who visit you so never use pictures or paintings that depict war, wild animals, boat struggling in sea, images of poverty, depressed faces, horror images.


Walls of this room should be painted in light colors. Avoid using dark colors.


The furnishing and furniture should be comfortable.


Don’t overdecorate the room with too many elements as more than required material will also block flow of energy.


You can use Child Ganesha images or Ganesha image that is decorated with jewellery / ornaments.

4. Kitchen –


Kitchen is an indicator of family’s prosperity besides keeping everyone healthy.


The most appropriate place for kitchen is the South-East corner of the house.


If the kitchen South-East corner is not possible then kitchen can also be built in the north-west region. Placement of water and fire should be far away in kitchen. Storage room shall always be built in the north-west region.


You can use pictures of beautiful food items to decorate kitchen. Kitchen should receive ample natural light and proper air ventilation for flow of positive energy.


Kitchen should always be kept clean and never leave false utensils or stale food in the night in the kitchen as negative energy is generated from here, that blocks the arrival of money, along with the opposite effect on the health of the Home Owner.



|| भगवान राम ||

|| भगवान शिव ||

|| माँ दुर्गा ||

|| श्री हनुमान ||

|| नवग्रह मंत्र ||

|| नवग्रह कवच ||

|| टोटके ||

|| Ganesh ||


|| भगवान शनि देव ||

|| राशिफल 2019 ||

|| आरती ||

|| भगवान के सात दिन ||
|| Seven days of God ||