Subah sham jo ram naam

Subah sham jo ram naam
Subah sham jo ram naam

Subah sham jo ram naam

सुबहो शाम जो राम नाम का करता है गुण गान,

जीवन की हर एक मुल खुद हो जाती आसान,

बोलो जय जय जय श्री राम जिनके सेवक है हनुमान,

 

राम नाम की मिहमा भो जग म अम पार है,

जिस ने राम के नाम को माना जीवन का आधार है,

उसके कष्ट मिटा देते है राम भक्त हनुमान,

जीवन की हर एक मुल खुद हो जाती आसान,

बोलो जय जय जय श्री राम जिनके सेवक है हनुमान,

 

तारे केवट शबरी पर बनी अहिलाया तारी,

मर्यादा पुरषोत्तम राम की श्रिस्ति है आभारी,

लेकर जन्म अयोध्या जिसने सब का किया कल्याण ,

जीवन की हर एक मुश्किल खुद हो जाती आसान,

बोलो जय जय जय श्री राम जिनके सेवक है हनुमान,

 

राम नाम तू रट न सके तो मरा मरा ही रट ले,

मरा मरा कहने से राम ही राम ही निकलेगा परख ले ,

राम नाम तो अंत समय तक भक्तो आये काम,

जीवन की हर एक मुश्किल खुद हो जाती आसान,

बोलो जय जय जय श्री राम जिनके सेवक है हनुमान,