घुमतेगणेश.कॉम
दक्षिण भारत में गंगा लाये गणपति 

दक्षिण भारत में गंगा लाये गणपति 

शिव पार्वती के विवाह में सम्मिलित होने और विवाह के बाद शिव पार्वती के दर्शन करने के लिए लोग बड़ी संख्या में कैलाश पर्वत की ओर जाने लगे। इतने सरे लोगो में कैलास पर्वत की ओर जाने….



क्यों गणेश पूजा में तुलसी वर्जित है ?

पौराणिक कथा के अनुसार धर्मात्मज की नवयौवना कन्या तुलसी ने विवाह की इच्छा लेकर तीर्थ यात्रा पर प्रस्थान किया।  देवी तुलसी सभी तीर्थस्थलों का भ्रमण करते हुए गंगा के तट……



गणेश चतुर्थी के समापन पर विसर्जन क्या बताता है ?

गणेश चतुर्थी को तीन चरणों में बाँट कर देखा जा सकता है। पहला चरण है आगमन इसमें भक्त गणपति की मूर्ति को मुर्तिकार या बाज़ार से अपने घर,….



गणेश चतुर्थी पर श्री गणेश की मूर्ति क्षतिग्रस्त हो जाए तो क्या करें?

श्री गणेश सभी के चहेते भगवान हैं और वे भी अपने भक्तों को बहुत प्यार करते हैं। किन्तु कई बार भक्त ऐसी दुविधा में फसं जाता है की समझ नहीं ….



गणेश पूजन विधि

हिन्दू धरम शास्त्र के अनुसार किसी भी शुभ काम के करने से पहले गणेश पूजन आवश्यक है। इससे प्रसन्न होकर गणेश जी सारे काम निर्विग्न कर देते है| गणेश पूजन की सरल विधि जो आप आसानी से घर…..



किस युग में गणेश क्या कहलाये…

हर युग में गणपति धरती पर पधारें हैं। हर युग की आवश्यकताओं के आधार पर, श्री गणपति के जो अवतार हुए हैं, वे हैं- क्रतयुग (सत्ययुग) महोक्तक विनायक जो की ऋषि कश्यप और उनकी पत्नी अदिति से में पैदा हुए थे।



गणेश जन्म

एक दिन देवी पार्वती कैलाश पर्वत पर स्नान की तैयारी कर रही थी । देवी पार्वती ने नंदी (शिव के बैल) को दरवाजे की सुरक्षा करने और किसी को पास न आने देने के लिए कहा। पार्वती की इच्छा को पूरा….



गणेश जी से जुड़ा बड़ा रहस्य

भगवान गणेश को प्रथम पुज्य कहा जाता है। गणेश उस देवता के रूप में माना जाता है, जिसे किसी अन्य देवता के प्रति अपना सम्मान देने या किसी भी अच्छे काम की शुरुआत करने…..



गणेश पूजन सामग्री

गणेश जी को बिठाने के लिए चौकी, लाल कपडा,जल, कलश, पंचामृत, रोली, मोली, लाल चन, जनेऊ, गंगाजल, सिंदूर, चांदी का वक, लालफूल और माला, इत्र, मोदक या लडडू, हरेमुंग, गुड़ और खड़ा धना धानी ….



गणेश मंत्र और अर्थ

थम पूजनीय श्री गणेश जी को विनायक, विघ्नेश्वर, गणपति, लंबोदर के नाम से भी जाना जाता हैं। हिन्दू धर्म के अनुसार किसी भी कार्य से पहले गणेश जी की पूजा की जाती है।गणेश जी की पूजा साधना…..