Ganesh galli mumbai cha raja

1928 में मील में काम करने वाले श्रमिकों द्वारा गणेश गली मुंबइचा राजा पंडाल की शुरआत की गयी थी। जो आज की तारिख में इस इलाके का सबसे पुराना गणेश मंडल बन गया है।गणेश गली मुंबइचा राजा मुंबई के सबसे प्रसिद्ध गणेश मंडल लालबागचा राजा से बस कुछ ही दुरी पर है और 1990 के बाद से लालबागचा राजा के सामने गणेश गली मुंबइचा राजा की चमक में थोड़ा फर्क ज़रूर पड़ा लेकिन फिर भी यहाँ बड़ी संख्या में गणेश भक्त आते है और आशीर्वाद प्राप्त करते हैं। 

गणेश-गली-मुंबइचा-राजा
गणेश-गली-मुंबइचा-राजा

यह मंडल हर साल सजावट में कुछ नया और विविध करता आया है। प्रायः यहाँ सजावट में भारत के किसी प्रसिद्ध स्थान की प्रतिकृति का निर्माण किया जाता है और पर्यावरण, प्रदुषण का ध्यान रखते हुए प्लास्टर ऑफ पेरिस का उपयोग कम किया जाता है। 

गणेश-गली-मुंबइचा-राजा
गणेश-गली-मुंबइचा-राजा

स्थान: गणेश गली (लेन),
लालबाग (मध्य मुंबई)।
नजदीकी रेलवे स्टेशन:
चिंचपोकली, करी रोड, और लोअर परेल रेलवे स्टेशन नज़दीक हैं।
प्रतीक्षा समय:
20 मिनट या कुछ घंटों के रूप में कम हो सकता है।
कब जाएँ:
यह हमेशा व्यस्त रहता है। पीक ऑवर्स दोपहर और रात 3 बजे से दोपहर 2 बजे तक हैं। उत्सव के अंतिम दिन विसर्जन (विसर्जन) के लिए जुलूस सुबह 8 बजे से शुरू होता है और निम्नलिखित मार्ग लेता है: डॉ। एसएस राव रोड, गणेश सिनेमा, चिंचपोकली ब्रिज, आर्थर रोड कॉर्नर, साट रास्ता, साने गुरुजी मार्ग, सहमतपड़ा , डॉ। भड़कमकर मार्ग, ओपेरा हाउस, विल्सन कोलाज, गिरगांव चौपाटी। विसर्जन रात 8.30 बजे तक पूरा हो गया। उसी दिन।