भीमाशंकर मंदिर, खेड़, जिला पुणे, महाराष्ट्र

भीमाशंकर मंदिर, खेड़, जिला पुणे, महाराष्ट्र

Bhimashankar Mandir In Hindi

भीमाशंकर मंदिर,

खेड़, जिला पुणे, महाराष्ट्र

भीमाशंकर मंदिर, खेड़, जिला पुणे, महाराष्ट्र में स्थित है। देखने पर मंदिर काफी नया बना सा लगता है किन्तु तेरवहिं शताब्दी ई.पू. के साहित्य में भीमाशंकर मंदिर का उल्लेख मिलता है।

संत जनेश्वर भीमाशंकर और त्र्यंबकेश्वर के दर्शन करने आये थे। मंदिर की एक और अनोखी बात है मंदिर के सामने लगी बड़ीसी गंटी जो की रोमन शैली में बनी हुई है और उस पर जीसस के साथ मदर मैरी की आकृति उकेरी हुई है और १७२१ भी अंकित है।

भीमाशंकर मंदिर के अस्तित्व के बारे में किंवदंती है की कुम्भकर्ण के पुत्र भीमा को जब यह पता चला की उसके पिता का वध भगवान विष्णु ने भगवान राम के रूप में अवतार में किया था तो वह काफ़ी क्रोधित हुआ।

भीमा ने भगवान विष्णु से प्रतिशोध लेने की कसम खाई और ब्रह्मा को प्रसन्न करने के लिए तपस्या करने लगा। ब्रह्मा जी ने प्रसन्न होकर भीमा को शक्ति और शक्तिशाली बनते ही भीमा ने पृथ्वी पर विनाश दिया।

इसी श्रंख्ला में  शिव के कट्टर भक्त कामरूपेश्वर को पराजित कर दिया और कल कोठरी में बंद कर दिया। मौका देख सारे भगवानों ने शिव जी से पृथ्वी पर आकर विनाश का आग्रह किया। 

भीमाशंकर मंदिर
wikimedia

भीमा शिव जी के सामने नहीं झुका और युद्ध के लिए ललकारा, शंकर ने भीमा का अंत किया और भगवानों के अनुरोध पर वहीँ अपना निवास भी बनाया। ऐसा माना जाता है कि युद्ध के बाद शिव के शरीर से जो पसीना निकला था, वह भीम नदी है जो की यहीं से निकलती है और दक्षिण-पूर्व में कृष्णा नदी में जा के मिल जाती है।