Breaking News

Monthly Archives: August 2019

Ganpati decoration : घर में इको-फ्रेंडली तरीके से गणेश सजावट कैसे करें

पानी की बॉटल – प्लास्टिक या कांच की पानी की बोतलें जो की हम उपयोग के बाद फेंक देते हैं उनको कलात्मक रूप से सजावट के लिए उपयोग में लाया जा सकता है।

Read More »

Rani Sati Dadi ki aarti

Rani sati dadi ki aarti ॐ जय श्री राणी सती माता, मैया जय राणी सती माता, अपने भक्त जनन की दूर करन विपत्ती॥ अवनि अननंतर ज्योति अखंडीत, मंडितचहुँक कुंभा दुर्जन दलन खडग की विद्युतसम प्रतिभा॥ मरकत मणि मंदिर अतिमंजुल, शोभा लखि न पडे, ललित ध्वजा चहुँ ओरे , कंचन कलश धरे॥ घंटा घनन घडावल बाजे, शंख मृदुग घूरे, किन्नर गायन …

Read More »

राम जी की आरती

श्री-रामचन्द्र-कृपालु-भजु-मन-हरण-भवभय-दारुणम्।-1

Ram ji ki aarti श्री रामचन्द्र कृपालु भजु मन, हरण भवभय दारुणम्। नव कंज लोचन, कंज मुख कर कंज पद कंजारुणम्॥ श्री रामचन्द्र कृपालु भजु मन कन्दर्प अगणित अमित छवि, नव नील नीरद सुन्दरम्। पट पीत मानहुं तड़ित रूचि-शुचि नौमि जनक सुतावरम्॥ श्री रामचन्द्र कृपालु भजु मन भजु दीनबंधु दिनेश दानव दैत्य वंश निकन्दनम्। रघुनन्द आनन्द कन्द कौशल चन्द्र दशरथ …

Read More »

पायो जी मैंने राम रतन धन पायो |

पायो जी मैंने राम रतन धन पायो | वस्तु अमोलिक दी मेरे सतगुरु | कृपा कर अपनायो ||

payoji maine ram ratan dhan payo पायो जी मैंने राम रतन धन पायो | वस्तु अमोलिक दी मेरे सतगुरु | कृपा कर अपनायो || जन्म जन्म की पूंजी पाई | जग में सबी खुमायो || खर्च ना खूटे, चोर ना लूटे | दिन दिन बढ़त सवायो || सत की नाव खेवटिया सतगुरु | भवसागर तरवयो || मीरा के प्रभु गिरिधर …

Read More »

प्रेम मुदित मन से कहो राम राम राम, राम राम राम, श्री राम राम राम |

प्रेम मुदित मन से कहो राम राम राम, राम राम राम, श्री राम राम राम |

Prem mudit man se kaho ram ram प्रेम मुदित मन से कहो राम राम राम, राम राम राम, श्री राम राम राम | पाप कटें दुःख मिटें लेत राम नाम | भव समुद्र सुखद नाव एक राम नाम || परम शांति सुख निधान नित्य राम नाम | निराधार को आधार एक राम नाम || संत हृदय सदा बसत एक राम …

Read More »

सीता राम सीता राम सीता राम कहिये

सीता राम सीता राम सीता राम कहिये

sita ram sita ram sita ram kahiye सीता राम सीता राम सीताराम कहिये, जाहि विधि राखे राम ताहि विधि रहिये | मुख में हो राम नाम राम सेवा हाथ में, तू अकेला नाहिं प्यारे राम तेरे साथ में | विधि का विधान जान हानि लाभ सहिये, जाहि विधि राखे राम ताहि विधि रहिये || किया अभिमान तो फिर मान नहीं …

Read More »

ठुमक चलत रामचंद्र, बाजत पैंजनियां |

Thumak chalat ramchandra

Thumak chalat ramchandra Thumak chalat ramchandra bajat paijaniya ठुमक चलत रामचंद्र, बाजत पैंजनियां | किलकि किलकि उठत धाय, गिरत भूमि लटपटाय | धाय मात गोद लेत, दशरथ की रनियां || अंचल रज अंग झारि, विविध भांति सो दुलारि | तन मन धन वारि वारि, कहत मृदु बचनियां || विद्रुम से अरुण अधर, बोलत मुख मधुर मधुर | सुभग नासिका में …

Read More »