Monthly Archives: June 2019

Neumorology Year

Neumorology Year

Neumorology Year 2019 का जोड़ 3 आता है 2+1+9 = 12 2019 न्यूमेरोलॉजी वर्ष 3 न्यूमेरोलॉजी में एक महत्वपूर्ण संख्या है। अंक विज्ञान वर्ष 3 को त्रिमूर्ति का प्रतीक माना जाता है और एक संख्या जो सौभाग्य लाती है। न्यूमरोलॉजी में वर्ष 3 भी उदारता, शक्ति और सकारात्मकता को प्रेरित और प्रोत्साहित करता है।न्यूमरोलॉजी वर्ष 3 लोगों को अपने विचारों को स्वतंत्र रूप से व्यक्त करने और शक्ति …

Read More »

pipal ki puja & pipal ke totke

pipal ki puja & pipal ke totke   भारतीय संस्कृति में पीपल को देववृक्ष माना गया है, मान्यता के अनुसार पीपल के मूल में विष्णु, तने में केशव, शाखाओं में नारायण, पत्तों में श्रीहरि और फलों में सभी देवताओं के साथ अच्युत सदैव निवास करते हैं।पीपल भगवान विष्णु का जीवन्त और पूर्णत:मूर्तिमान स्वरूप है। pipal ki puja पीपल वृक्ष न सिर्फ पर्यावरण …

Read More »

Pune ke prachin aur prasidh ganesh pandal

Pune ke prachin aur prasidh ganesh pandal

Pune ke prachin aur prasidh ganesh pandal कसबा गणपती कसबा गणपती पुणे के कसबा पेठ में स्थित हैवर्ष 1639 शिवाजी महाराज और जीजाबाई भोसले ने कसबा गणपती मंदिर का निर्माण करवाया था। मंदिर में स्थापित गणेश प्रतिमा विनायक ठाकर के घर के पास मिली थी। गणेश चतुर्थी के आखरी दिन पुरे कस्बे की विसर्जन की प्रक्रिया श्री कस्बा गणपति के …

Read More »

12 ज्योतिर्लिंग का महत्व

12 ज्योतिर्लिंग का महत्व

श्रवण मास में शिव पूजा का अपना विशेष महत्व है , शिव भक्तो के शिव में रमने से संपूर्ण वातावरण शिव मे हो जाता है ऐसे समय में ये समझना और महत्वपूर्ण हो जाता है.....

Read More »

बच्चों के नामकरण के लिए गणेश जी के १००८ नाम

Bachcho ke namkaran ke liye ganeshji ke 1008 naam गणेश्वरै गँकरीद्या गन्नाथ्या गणाधिपय एकद्रष्टा वक्रतुण्डाय गजवक्रय महोदरैया लंबोदर धूम्रवर्णाय विकटाय विघ्ननायकाय सुमुखिया दमू बुद्ध विघ्नराजय गजानन भीमाया प्रमोदय अन्नोदय सूरन नंदया मोहतकतया हयरामभय शामबरया शंभूवे लम्बकर्णाय महाबलाय नंदनया आलमपतया अभिरिव मेघनादया गंगाजय विनयकाया विरुपाक्ष्या धीरशुर्या वरप्रदाय महा गणपति बुद्धिप्राय शिप्रा प्रसादनया रुद्र प्रिया गणधरक्षय उमा पुत्रया अघनाश्या कुमार गुरवे ईशान …

Read More »

बुद्धि और ज्ञान की देवी माता सरस्वती का मंदिर

Budhhi aur gyan ki devi mata Saraswati ka mandir

Budhhi aur gyan ki devi mata Saraswati ka mandir बुद्धि और ज्ञान की देवी माता सरस्वती जिनको की हम वसंत पंचमी पर विशेष रूप से पूजते है। माता सरस्वती को समर्पित एक प्रसिद्ध हिंदू मंदिर भारत में कर्नाटक के पवित्र शहर श्रृंगेरी में श्री शरदम्बा माता मंदिर के नाम से है।  श्रृंगेरी के शरदम्बा मंदिर की स्थापना श्री आदि शंकराचार्य …

Read More »

बेगा तो पधारो गजानंद माहरे आंगणा

बेगा तो पधारो गजानंद माहरे आंगणा,हो गजानंद माहरे आंगणा,हो दाता आवो पावणा हो दाता आवो पावणा,कीर्तन की रात है आई भक्तो में मस्ती चाही,पृथमे गणराज मनाओ भक्ति में धूम मचाओ,नाचो गावो सब को नचाओ भक्ति के रंग में धूम मचाओ,देख सारे भक्त खड़े है।तू भी आवणा हो गजानंद तू भी आवणा,हो दाता आवो पावणा,बेगा तो पधारो…. Bega to padharo Gajanand …

Read More »

बोलो जय जय गणेश बोलो जय जय गणेश

Bolo jai jai ganesh bolo jai jai ganesh बोलो जय जय गणेश बोलो जय जय गणेश,हो जांदा है जनम सुखला मिट जन्दे कलेश, गोरा माँ दा एह लाडला शिव जी दा वरदान,हर कम तो पहला एहनु पूजे हर इंसान,एहदे उते फूल बरसोंदे ब्रह्मा विष्णु गणेश,बोलो जय जय गणेश बोलो जय जय गणेश, सच्चे मन दे नाल हमेशा जो भी करदा …

Read More »

Bhagwan Vishnu Ke 10 Mantra…

10-mantras-of-Lord-Vishnu

Bhagwan Vishnu Ke 10 Mantra 1.ॐ नमो भगवते वासुदेवाय 2.श्रीकृष्ण गोविन्द हरे मुरारे।हे नाथ नारायण वासुदेवाय।। 3.ॐ नारायणाय विद्महे।वासुदेवाय धीमहि।तन्नो विष्णु प्रचोदयात्।। 4.ॐ विष्णवे नम: 5.ॐ हूं विष्णवे नम: 6.धन-वैभव एवं संपन्नता पाने का विशेष मंत्र ॐ भूरिदा भूरि देहिनो, मा दभ्रं भूर्या भर।भूरि घेदिन्द्र दित्ससि।ॐ भूरिदा त्यसि श्रुत: पुरूत्रा शूर वृत्रहन्।आ नो भजस्व राधसि। Bhagwan Vishnu Ke 10 Mantra 7.लक्ष्मी …

Read More »

भगत-प्यारे जी गणेश नु मनाउंदे ने

भगत प्यारे जी गणेश नु मनाउंदे ने

Bhagat pyare ji ganesh nu manaunde ne पारवती मैया जी दी अखियां दा तारा है,शिव जी दा पुत्र एह सब न प्यारा है,तो पहले भोग लडडुआ दा लगाउँदै ने,भगत प्यारे जी गणेश नु मनाउंदे ने, गणपति जी मेरे जिद्दी बाह फड़ लें गे,पल्ला विच ओहदे सारे दुःख हर लेंगे,घर विच पहले सारे आरती करवन्दे ने,भगत-प्यारे जी गणेश नु मनाउंदे ने, …

Read More »

महाराज गजानन जी पधारो माहरे कीर्तन में

महाराज गजानन जी पधारो माहरे कीर्तन में, सब देवो में सबसे पहले पूजा हॉवे थारी,सब के पुराण काज बनाते वीगन मिटाते भरी,संग रिद्धि सीधी लाओ जी पधारो माहरे कीर्तन मेंमहाराज गजानन जी…… देवो के सिर मोर बनायक बांटे उडीका थारी,आन पधारो हे घनायक कीर्तन की है तयारी,संग सुमति भी लाओ जी,पधारो माहरे कीर्तन मेंमहाराज गजानन जी……… शंकर सुवन गोरा के …

Read More »

Brahma Chalisa

Brahma Chalisa

Brahma Chalisa ॥Doha॥ Jai Brahma Jai Sayambhu,Chaturaanan Sukhamool । Karahu Kripaa Nij Daas Pai,Rahahu Sadaa Anukool। Tum Srijak Brahmaand Ke,Aj Vidhi Ghaataa Naam। Vishwavidhaataa Kijiye,Jan Pai Kripaa Lalaam । ॥॥Chaupaai॥ Jai Jai Kamalaasan Jagamoola,Rahahu Sadaa Janapai Anukoolaa । Roop Chaturbhuj Param Suhaavan,Tumhe Ahain Chaturdik Aanan । Raktavarn Tav Subhag Shareera,Mastak Jataajoot Gambheeraa । Taake Upar Mukut VIraajai,Daadhi Sweta Mahaachhavi Chhaajai …

Read More »

shri bramha chalisa

श्री ब्रह्मा चालिसा श्री ब्रह्मा चालिसा ।। दोहा ।। जय ब्रह्मा जय स्वयम्भू, चतुरानन सुखमूल।करहु कृपा निज दास पै, रहहु सदा अनुकूल।।तुम सृजक ब्रह्माण्ड के, अज विधि घाता नाम।विश्वविधाता कीजिये, जन पै कृपा ललाम।। ।। चौपाई ।। जय जय कमलासान जगमूला, रहहू सदा जनपै अनुकूला।रुप चतुर्भुज परम सुहावन, तुम्हें अहैं चतुर्दिक आनन। रक्तवर्ण तव सुभग शरीरर, मस्तक जटाजुट गंभीरा।ताके ऊपर …

Read More »

Rani Sati Chalisa

Rani Sati Chalisa

॥ Doha ॥ Sri Guru Pad Pankaj Naman, Dushit Bhav Sudhar, Ranisati Suvimal yash, Barnau Mati Anusar, Kaam Krodh mad lobh me, Bharam rahyo sansar, Sharan gahi karunamayi, Sukh sampatti sanchar॥ ॥ Chaupai ॥ Namo Namo Sri Sati Bhavani, Jag vikhyat sabhi man manni। Namo Namo Sanktakun harni, mann vanchit pura sab karni॥ Namo Namo jai jai Jagdamba, bhaktan kaaj …

Read More »

shri rani sati chalisa

Rani Sati Chalisa ॥ दोहा ॥ श्री गुरु पद पंकज नमन, दुषित भाव सुधार,राणी सती सू विमल यश, बरणौ मति अनुसार,काम क्रोध मद लोभ मै, भरम रह्यो संसार,शरण गहि करूणामई, सुख सम्पति संसार॥ ॥ चौपाई ॥ नमो नमो श्री सती भवानी, जग विख्यात सभी मन मानी।नमो नमो संकट कू हरनी, मनवांछित पूरण सब करनी ॥2॥ नमो नमो जय जय जगदंबा, …

Read More »

Santoshi Maa Chalisa

Santoshi Maa Chalisa

Santoshi Maa Chalisa ||doha|| bandaun santoshee charan riddhi-siddhi daataar.dhyaan dharat hee hot nar duhkh saagar se paar.bhaktan ko santosh de santoshee tav naam.krpa karahu jagadamb ab aaya tere dhaam. ||chaaleesa|| jay santoshee maat anoopam. shaanti daayinee roop manoram.sundar varan chaturbhuj roopa. vesh manohar lalit anupa.1. sh‍vetaambar roop manahaaree. maan tumhaaree chhavi jag se nyaaree.divy svaroopa aayat lochan. darshan se ho …

Read More »

shri santoshi maa chalisa

shri santoshi maa chalisa shri santoshi maa chalisa ||दोहा|| बन्दौं सन्तोषी चरण रिद्धि-सिद्धि दातार।ध्यान धरत ही होत नर दुःख सागर से पार॥भक्तन को सन्तोष दे सन्तोषी तव नाम।कृपा करहु जगदम्ब अब आया तेरे धाम॥ ||चालीसा|| जय सन्तोषी मात अनूपम। शान्ति दायिनी रूप मनोरम॥सुन्दर वरण चतुर्भुज रूपा। वेश मनोहर ललित अनुपा॥1॥ श्‍वेताम्बर रूप मनहारी। माँ तुम्हारी छवि जग से न्यारी॥दिव्य स्वरूपा …

Read More »

Parvati Chalisa

Parvati Chalisa

Parvati Chalisa . doha . jay giree tanaye dagyage shambhoo priye gunakhaanee ganapati jananee paarvatee ambe ! shakti ! bhavaaminee . chaaleesa. brahma bhed na tumhare paave , paanch badan nit tumako dhyaave shashatamukhakaahee na sakatayaash tero , sahasabadan shram karaat ghanero ..1.. tero paar na paabat maata, sthit raksha le hit sajaata aadhaar prabaal sadrasih arunaarey , ati kamaneey …

Read More »

shri parvati chalisa

shri parvati chalisa

shri parvati chalisa ॥ दोहा ॥ जय गिरी तनये डग्यगे शम्भू प्रिये गुणखानी गणपति जननी पार्वती अम्बे ! शक्ति ! भवामिनी ॥ चालीसा॥ ब्रह्मा भेद न तुम्हरे पावे , पांच बदन नित तुमको ध्यावे शशतमुखकाही न सकतयाष तेरो , सहसबदन श्रम करात घनेरो ।।1।। तेरो पार न पाबत माता, स्थित रक्षा ले हिट सजाता आधार प्रबाल सद्रसिह अरुणारेय , अति …

Read More »

Shri Tulsi Chalisa

Shri Tulsi Chalisa

Shri Tulsi Chalisa ॥Doha॥Jai Jai Tulsi Bhagavati Satyavati Sukhdani।Namo Namo Hari Preyasi Shri Vrinda Gun Khani॥Shri Hari Shish Birajini, Dehu Amar Var Amb।Janhit He Vrindavani Ab Na Karahu Vilamb॥ ॥Chaupai॥ Dhanya Dhanya Shri Tulasi Mata। Mahima Agam Sada Shruti Gata॥Hari Ke Pranahu Se Tum Pyari। Harihi Hetu Kinho Tap Bhaari॥Jab Prasann Hai Darshan Dinhyo। Tab Kar Jori Vinay Us Kinhyo॥He …

Read More »