बुध ग्रह मंत्र

बुध ग्रह मंत्र
बुध ग्रह मंत्र

|| बुध ग्रह मंत्र ||
ऊँ बुं बुधाय नम:

|| बुध बीज मंत्र ||
ऊँ ऎं स्त्रीं श्रीं बुधाय नम:

|| बुध गायत्री मंत्र ||
ऊँ उद्बुध्यस्वाग्ने प्रतिजागृहि त्वमिष्टापूर्ते स सृजेथामयं च ।
अस्मिन्त्सधस्थे अध्युत्तरस्मिन्विश्वे देवा यजमानश्च सीदत ।।

|| बुध वैदिक मंत्र ||
ऊँ उद्बुध्यस्वाग्ने प्रतिजागृहि त्वमिष्टापूर्ते स सृजेथामयं च ।
अस्मिन्त्सधस्थे अध्युत्तरस्मिन्विश्वे देवा यजमानश्च सीदत ।।

|| बुध तांत्रिक मंत्र ||
ऊँ ब्रां ब्रीं ब्रौं स: बुधाय नम:

|| बुध नवग्रह मंत्र ||
प्रियं गुकलिकाश्यामम रूपनाम प्रथिमम बुधम |
सौम्यं सौम्य गुणापथम थम बुधम प्रणमाम्यहम ||

बुध मंत्र जप संख्या – 9000
बुध मंत्र जप समय – दोपहर

Comments

Write a Reply or Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *





Related Posts